मैंने कभी नहीं कहा कि पीएम मोदी को दिल्ली से हटा दिया जाए : ममता बनर्जी

24 मार्च 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आदेश के बाद देश में तालाबंदी कर दिया गया. यह तालाबंदी वैश्विक महामारी कोरोना के चलते की गई. इस तालाबंदी से सबसे ज्यादा नुकशान माध्यम वर्ग, किसानों और मजदूरों को हुआ है. देश की अर्थवस्था को भारी नुकशान हुआ है एक सर्वे में यहां तक बताया गया है कि इस तालाबंदी के कारण देश की अर्थ शक्ति अभी और भी क्षीण होगी. जीडीपी रेट मौजूदा समय की जीडीपी से लगभग 2 प्रतिशत नीचे जा सकता है.

बता दें कि  कोविड-19 का खतरा अभी भी देश में बरकरार है.  कोरोना महामारी की वजह से संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, लेकिन इन सबके बीच राजनीतिक पार्टियों के बीच भी जुबानी तलवार चल रही हैं जो रूकने का नाम ही  नाम नहीं ले रही हैं और हर पार्टी और सरकारें लगातार एक दूसरे पर दोषारोपण कर रही हैं.

क्या कहा ममता बनर्जी ने ?

मुझे वास्तव में बुरा लगता है कि जब हम COVID-19 और Amphan के खिलाफ लड़ रहे हैं और जान बचाने के लिए काम कर रहे हैं, तो कुछ राजनीतिक दल हमें हटाने के लिए कह रहे हैं. मैंने कभी नहीं कहा कि पीएम मोदी को दिल्ली से हटा दिया जाए.

क्या यह राजनीति करने का समय है? पिछले तीन महीनों से वे कहां थे? हम जमीन पर काम कर रहे थे। बंगाल COVID19 और साजिश दोनों के खिलाफ जीतेगा.

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *