1 जुलाई से होगी DU में ओपन बुक परीक्षा, डीन ने कॉलेजों को जारी किए निर्देश

न्यूज़ पैंट्री डेस्क: डीयू यानि दिल्ली विश्वविद्यालय ने पहली बार आयोजित होने जा रही ओपन बुक परीक्षा की डेटसीट जारी कर दिया है. जिसके मुताबिक, सेमेस्टर और वार्षिक परीक्षाएं 1 जुलाई से 11 जुलाई के बीच आयोजित होंगी. गौरतलब है कि यह डेटशीट सिर्फ रेगुलर, एसओएल (SOL), एनसी वेब फाइनल ईयर के छात्रों के लिए जारी की गई है. शनिवार को ही डीयू (DU) ने सभी कॉलेजों के प्रिंसिपलों को एक लेटर लिखकर ओपन बुक परीक्षा के नियमों के बारे में विस्तृत जानकारी दी. और कॉलेज प्रशासन (College administration) की जिम्मेदारी भी तय की है. परीक्षा के बारे में विस्तृत रूप से डीयू की आधिकारिक वेबसाइट पर भी प्रकाशित कर दिया गया है.

डीयू  के कॉलेजों को मिला निर्देश (DU colleges get instructions)

दरअसल डीयू के डीन एग्जामिनेशन प्रो. विनय गुप्ता ने कॉलेजों के प्रिंसिपल को लिखे पत्र में कहा है कि कॉलेज को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि परीक्षाओं के लिए शेड्यूल ठीक से अधिसूचित हों. इसके अलावा छात्रों को आधिकारिक ई-मेल, एसएमएस, व्हाट्सएप या किसी मैसेजिंग एप के जरिए भी जानकारी साझा करने के लिए कहा है. डीयू के निर्देश में यह भी कहा गया है कि जिन छात्रों के पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है वह कॉलेज में परीक्षा दे सकते हैं. इसके अलावा देश के दूर-दराज वाले जिन इलाकों में इंटरनेट की सुविधा नहीं है, वहां के हजारों छात्रों को डीयू ने केंद्र सरकार की पंचायतों में बनाए गए कॉमन सर्विस सेंटर (Common Service Center) में उपलब्ध सुविधाओं का नि:शुल्क लाभ लेने के लिए कहा है. तो वही दिव्यांग छात्रों के लिए अलग से 2 घंटे अधिक देने का प्रावधान किया है. इसके अलावा ओपन बुक परीक्षा का संचालन ठीक से हो सके, इसके लिए डीयू पोर्टल पर एक सप्ताह पहले छात्रों के लिए मॉक टेस्ट उपलब्ध कराएगा.

ऑनलाइन ओपन बुक परीक्षा क्या होती है? (What is online open book exam?)

ऑनलाइन ओपन-बुक परीक्षा में छात्रों को सवालों के जवाब देते समय अपने नोट्स, पाठ्य पुस्तकों और अन्य स्वीकृत सामग्री की मदद लेने की अनुमति होती है. छात्र अपने घरों में बैठकर वेब पोर्टल से अपने-अपने पाठ्यक्रम के प्रश्न पत्र डाउनलोड करेंगे और दो घंटे के भीतर उत्तर-पुस्तिका जमा करनी पड़ेगी.

गौरतलब है कि जो छात्र किसी कारणवश ओपन बुक परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे, उनके लिए सितंबर में फिजिकल उपस्थिति में परीक्षा कराई जा सकती है. तो वही स्नातक और परास्नातक के अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए ऑनलाइन ओपन बुक परीक्षा कराने के निर्णय पर उच्च न्यायालय ने दिल्ली विश्वविद्यालय से जवाब मांगा है. दरअसल जस्टिस जयंत नाथ ने डीयू को नोटिस जारी कर मामले की अगली सुनवाई से पहले जवाब देने को कहा है. मामले की अगली सुनवाई 18 जून को होगी.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *