UP के सरकारी दफ्तरों में 50 फीसदी कर्मचारियों की उपस्थिति अनिवार्य, जानिए कैसे होगा संभव !

न्यूज़ पैंट्री डेस्क: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सभी सरकारी दफ्तरों में कर्मचारियों की अब 50 फीसदी उपस्थिति अनिवार्य कर दिया है. ऐसे में अब सभी विभागाध्यक्ष व कार्यालयाध्यक्ष को प्रतिदिन ऑफिस आना होगा. दफ्तर आने वाले कर्मचारी तीन पालियों में आएंगे. गौरतलब है कि अधीनस्थ कार्यालयों, स्थानीय निकायों, निगमों आदि में भी यही नियम रहेगी. उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने शासनादेश जारी कर दिया है.

बता दें कि प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए 17 अप्रैल को सभी विभागों को कार्यालय खोलने, प्रमुखों की उपस्थित रहने के अलावा 33 फीसदी कर्मचारियों को ही कार्यालय बुलाने का आदेश जारी किया था. मीडिया में आई खबरों के मुताबिक अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंघल ने कहा है कि सभी विभागाध्यक्ष व कार्यालयाध्यक्ष कार्यालयों में प्रत्येक कार्यदिवस में 50 फीसद कार्मिकों की उपस्थिति सुनिश्चित कराएंगे. इसके लिए रोस्टर बनाएंगे. रोस्टर इस तरह से बनेगा कि प्रत्येक कर्मी एक दिन के अंतराल से ऑफिस आए और सरकारी कार्य में कोई बाधा न आए.

उन्होंने आगे कहा कि कार्यालय की समय सीमा में सामाजिक दूरी अन्य अन्य सुरक्षात्मक उपायों का पूरा ध्यान रखा जाएगा. सभी कर्मचारी अपने मोबाइल फोन में यथासंभव आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करेंगे. रोस्टर के मुताबिक घर से काम कर रहे कर्मचारी इस अवधि में अपने मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रॉनिक साधनों के जरिए कार्यालय के संपर्क में रहेंगे. ताकि जरूरत पड़ने पर उन्हें कार्यालय बुलाया जा सकेगा.

तीन पालियां
सुबह 9 से शाम 5 बजे तक
सुबह 10 बजे शाम 6 बजे तक
सुबह 11 बजे शाम 7 बजे तक

Spread the love