अगले 5 महीने तक गरीबों को मुफ्त मिलेगा राशन, जानिए पीएम मोदी ने और क्या कहा

न्यूज़ पैंट्री डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना लॉकडाउन के बाद से अभीतक देश को कई बार संबोधित कर चुके हैं. आज एकबार फिर उन्होंने राष्ट्र के नाम संबोधन किया. प्रधानमंत्री कार्यलय ने 29 जून को देर रात पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन की जानकारी दी थी. जिसके बाद से गृह मंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर लोगों से संबोधन सुनने की अपील किया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन    

  • अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है. यानि एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड. इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं: पीएम मोदी
  • आज गरीब को, ज़रूरतमंद को, सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय प्रमुख रूप से दो वर्गों को जाता है. पहला- हमारे देश के मेहनती किसान, हमारे अन्नदाता. दूसरा- हमारे देश के ईमानदार टैक्सपेयर: पीएम मोदी
  • कृपया सुरक्षित रहें और 2 गज की दूरी का अनुसरण करें और फेस-मास्क का उपयोग करते रहें.
  • देश के हर गरीब को मुफ्त में खाद्यान्न उपलब्ध कराने की इस मेगा योजना के पीछे किसान और ईमानदार करदाता हैं. मैं किसानों और ईमानदार करदाताओं के सामने सलाम करता हूं.
  • 80 करोड़ से अधिक लोगों को प्रति माह 5 किलो गेहूं या 5 किलो चावल मिलेगा. नवंबर 2020 तक हर परिवार को हर महीने 1 किलो चना मिलेगा. इस पर 90000 करोड़ रुपये खर्च होंगे.
  • नवंबर 2020 तक हर महीने 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन मिलेगा.
  • हालाँकि, जब से अनलॉक -1 को लागू किया गया है, मैं देख रहा हूँ कि हम अधिक लापरवाह होते जा रहे हैं.
  • पीएम गरीब कल्याण योजना ने गरीबों को लाभान्वित किया है.
  • पिछले 3 महीनों में, 20 करोड़ ग्रामीण परिवारों के खातों में 31,000 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए गए.
  • हमें कोविड​​-19 के नियंत्रण क्षेत्रों पर गंभीरता से ध्यान देना होगा.
  • हम अनलॉक 0 में प्रवेश कर रहे हैं और खांसी, बुखार और सर्दी का मौसम भी शुरू होने वाला है. ऐसी स्थिति में, मैं देशवासियों से खुद का ख्याल रखने का आग्रह करता हूं
  • समय पर तालाबंदी के कारण भारत बेहतर स्थिति में है.
  • मैं आप सभी से अनुरोध करता हूं कि आप अपना ख्याल रखें. अगर हम COVID-19 की मृत्यु दर को देखें तो भारत अन्य देशों से कहीं बेहतर है.
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *