जरूरतमंदों की मदद के लिए अपनी तिजोरी खोले मोदी सरकार : सोनिया गांधी

न्यूज पैंट्री डेस्क : देश में कोरोना संकट के कारण गरीब और मध्यम वर्ग बुरे दौर से गुजर रहा है. लोगों की रोजी-रोटी पर ताला लग गया है और उनके लिए परिवार चलाना मुश्किल हो गया है. इसे देखते हुए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार से इन लोगों की मदद की अपील की है. उन्होंने कहा कि सरकार अपना खजाना खोले ताकि कोरोना वायरस की मार झेल रहे ज़रूरतमंद लोगों को मदद मिल सके.

कांग्रेस की ओर से स्पीक अप इंडिया कैंपेन की शुरूआत की गई है. इसके तहत सोनिया गांधी ने एक वीडियो मैसेज जारी किया. उन्होंने गरीबों की मौजूदा स्थिति पर अफसोस जताते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन के कारण देश गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहा है लेकिन केंद्र सरकार ने लोगों के दर्द और उनकी तकलीफ को अनसुना कर दिया है.

हर महीने साढ़े सात हजार रुपये दे मोदी सरकार

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हम केंद्र सरकार से जरूरतमंदों की मदद के लिए अपने खजाने खोलने की अपील कर रहे हैं. इसके तहत अगले छह महीने तक देश के हर परिवार के बैंक खातों में साढ़े सात हजार रुपये की नगद राशि भेजी जाए. इसके अलावा दस हजार रुपये की नगद मदद तुरंत दी जाए.घर लौट रहे मजदूरों के लिए सुरक्षित यात्रा की व्यवस्था की जाए और इसके लिए उनसे कोई पैसा न लिया जाए.

इसे भी पढ़ें – लॉकडाउन की रणनीति तो फेल हो गई अब आगे का प्लान बताए मोदी सरकार : राहुल गांधी

मनरेगा में काम के दिनों की संख्या बढ़ाई जाए ताकि गांव लौटे लोगों को काम मिल सके. साथ ही रोजगार के अन्य अवसर भी उपलब्ध कराए जाएं. कांग्रेस पार्टी के सोशल मीडिया हैंडल से शेयर किए गए इस वीडियो संदेश में सोनिया गांधी ने कहा, “लोन देने की बजाय छोटे और मंझोले इंडस्ट्री को आर्थिक राहत दी जाए ताकि करोड़ों की नौकरी को सुरक्षित किया जा सके और देश तरक्की करे.”

Spread the love