मौसम विभाग ने दी चेतावनी, मध्‍य और दक्षिण भारत में अगले हफ्ते से ज्यादा होगी बारिश

न्यूज पैंट्री डेस्क: देश के कई हिस्सों में शुक्रवार को तेज़ी से बारिश हुई, जिसके कारण अधिकतम तापमान सामान्य से कम दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने कहा है कि मॉनसून में प्रगति होने के कारण अगले सप्ताह से मध्य और दक्षिण भारत में ज्यादा बारिश होगी.

शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी समेत आस-पास को राज्यों जैसे पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में भी बारिश हुई. दिल्ली के सफदरजंग वेधशाला ने 1.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की जबकि आयानगर और लोधी रोड मौसम केंद्र ने क्रमश: 21.7 मिमी और 0.6 मिमी वर्षा दर्ज की.

मौसम विभाग (IMD) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने शुक्रवार को कहा कि अगले सप्ताह बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने और ओडिशा की ओर इसके बढ़ने की संभावना है. इससे अगले सप्ताह मॉनसून के आगे बढ़ने और अच्छी बारिश होने की संभावना है.

केरल में तय समय पर पहुंचा मॉनसून
मॉनसून ने एक जून को केरल में दस्तक दी थी. आमतौर पर इसी दिन मॉनसून दस्तक देता है. हालांकि, मौसम विभाग ने पूर्व में अनुमान लगाया था कि मॉनसून में चार दिन की देरी होगी, लेकिन चक्रवात निसर्ग ने मॉनसून को तय समय पर केरल पहुंचने में मदद की.

मौसम विभाग ने कहा, ‘‘अरब सागर, कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल, बंगाल की खाड़ी के समस्त दक्षिणी-पूर्वी और पश्चिमी मध्य के कुछ हिस्सों में अगले दो दिनों के दौरान मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए अनुकूल परिस्थितियां हैं.”

15 जून तक लू चलने की संभावना नहीं
भारतीय मौसम विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि उत्तर पश्चिमी भारत में चक्रवात निसर्ग के कारण आई नमी की वजह से बारिश हुई.उन्होंने यह भी कहा कि इस क्षेत्र में 15 जून तक लू चलने की संभावना नहीं है.

आईएमडी के दैनिक राष्ट्रीय बुलेटिन में देश का सबसे अधिक तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के मुताबिक, एक जून से देश में कुल मिलाकर सामान्य की तुलना में नौ प्रतिशत अधिक बारिश हुई है.

Spread the love