भारत को आंख दिखाता रहा नेपाल, चीन ने उसकी जमीन पर कर लिया कब्जा

न्यूज पैंट्री डेस्क : इन दिनों भारत अपने पड़ोसी देशों के साथ तनाव भरे रिश्तों से गुजर रहा है. लद्दाख सीमा पर कई हफ्तों से चीन के साथ तनाव जारी है तो लिपुलेख और कालापानी को लेकर नेपाल के साथ विवाद चल रहा है. अब भारत के लिए एक और बुरी खबर आई है. जानकारी के मुताबिक चीन ने नेपाल की जमीन पर कब्जा कर लिया है.

इस मसले पर भारत सरकार पूरी तरह नजर बनाए हुए है. फिलहाल यह आकलन किया जा रहा है कि चीन के इस कदम के रणनीतिक असर क्या होंगे. साथ ही उस जमीन के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है जहां चीन ने अपना कब्जा जमाया है. इसके साथ ही यह देखा जा रहा है कि उस जमीन की भारतीय सीमा से कितनी दूरी है.

नेपाल की जमीन पर कब्जा जमा रहा चीन

अंग्रेजी दैनिक अखबार इकॉनमिक टाइम्स में इस मसले पर एक खास रिपोर्ट छपी है. इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत ये समझने की कोशिश कर रहा है कि चीन ने यह जमीन नेपाल की सहमति से ली है या फिर जबरन हथिया ली है. इससे एक बात तो साफ हो गई है कि चीन अपने पड़ोसी देशों की जमीन पर लगातार कब्जा करता जा रहा है. इससे द्विपक्षीय संबंधों में लगातार खटास आती जा रही है.

इसे भी पढ़ें- चीन और नेपाल के बाद अब बांग्लादेश भारत से क्यों नाराज हो गया?

भारत और चीन के बीच पहले से ही तनाव बना हुआ है ऐसे में अब नेपाल की जमीन को कब्जाने के मामले से दोनों देशों के रिश्तों में और दूरियां बढ़ने के आसार हैं. नेपाल मामलों से जुड़े जानकारों का कहना है कि कम से कम अब नेपाल को यह समझ लेना चाहिए कि चीन से नजदीकियां बढ़ाना उसके लिए फायदेमंद नहीं है. एक तो इससे भारत-नेपाल रिश्तों पर असर पड़ रहा है और दूसरी तरफ चीन उसकी जमीन को हथिया रहा है.


जमीन कब्जाने के लिए चीन की साजिश

इकॉनमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़, ”नेपाल सरकार की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन नेपाली जमीन पर कब्जा करने के लिए तिब्बत में सड़क निर्माण का सहारा ले रहा है और वह इस क्षेत्र में बॉर्डर आउटपोस्ट बना सकता है. नेपाली कृषि मंत्रालय के सर्वे डिपार्टमेंट की रिपोर्ट 11 जगहों की सूची के बारे में बताती है जिसमें से 10 पर चीन ने कब्जा कर लिया है. चीन ने नदियों के बहाव को मोड़कर इस जमीन पर कब्जा किया है.”

इसे भी पढ़ें- भारत और चीन में से रूस किसका साथ दे रहा है?

चीन नेपाल की जमीन को कब्जाने के लिए बहुत ही चतुराई से काम ले रहा है. इसके लिए चीन तिब्बत के स्वायत्त इलाके में बहुत तेजी से सड़कों का जाल बिछा रहा है. इसकी वजह से कई नदियों का बहाव बदल गया है. अब इन नदियों की धार नेपाल की ओर बहने लगी है. नदी के बहाव से नेपाल की ओर की जमीन कट रही है और चीन का हिस्सा बढ़ता जा रहा है. अगर यह सिलसिला कुछ वक्त तक और चलता रहा तो काफी बड़ा भूभाग चीन के कब्जे में हो जाएगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *