क्या भारत में फिर से टोटल लॉकडाउन होने वाला है ?

न्यूज पैंट्री डेस्क : भारत में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. संक्रमित मरीजों का आंकडा सवा तीन लाख को पार कर गया है. मरने वालों की संख्या भी 10 हजार के करीब हो चुकी है. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि देश में एक बार फिर से लॉकडाउन लागू किया जा सकता है. 

पिछले कुछ दिनों में जिस तरह से कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ी है उसके बाद लॉकडाउन लागू करने की खूब अटकलें लगाई जा रही हैं. हालांकि, अब तक केंद्र सरकार की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है. माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ होने वाली बैठक के बाद इसे लेकर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना है.

कोरोना पर पीएम मोदी की मुुख्यमंत्रियों से चर्चा

बिजनेस अखबार इकोनॉमिक टाइम्स में लॉकडाउन की अटकलों को लेकर एक रिपोर्ट छपी है. इस रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री उनसे शहरी कंटेनमेंट इलाकों में प्रतिबंध जारी रखने की बात कह सकते हैं. टोटल लॉकडाउन की बजाय हॉटस्पॉट इलाकों में प्रतिबंध जारी रहने की संभावना ज्यादा दिखाई दे रही है.

कोरोना पर शाह-केजरीवाल का जोरदार प्लान, 500 रेल कोच बनाए जाएंगे अस्पताल

अख़बार ने एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से रिपोर्ट लिखी है. इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी मुख्यमंत्रियों को कुछ महत्वपूर्ण निर्देश दे सकते हैं. पीएम मोदी राज्यों को शहरी कंटेनमेंट ज़ोन में घर-घर जाकर टेस्ट करने के निर्देश दे सकते हैं. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग, फ़ेस मास्क और दूसरे ज़रूरी एहतियात बरतने के लिए सख़्ती बरतने की बात भी कह सकते हैं.

क्या फिर से लॉकडाउन बढ़ाएगी मोदी सरकार

बीते कुछ दिनों में केंद्र सरकार को यह फीडबैक मिला है कि कई राज्यों में स्थिति पहले के मुकाबले बिगड़ती जा रही है. इसे देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 और 17 जून को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे. खास बात यह है कि 17 जून को पीएम मोदी उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे जो कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित हैं.

एक महीने के लिए बढ़ा लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद !

बैठक में प्रधानमंत्री मुख्यमंत्रियों से सुझाव मांग सकते हैं और उनके आधार पर एक कॉमन स्ट्रैटेजी बनाई जाएगी. फिलहाल यह बिल्कुल साफ है कि फिर से पूरी तरह लॉकडाउन लागू करने की कोई योजना नहीं है. कोरोना महामारी से निपटने के लिए सरकार अब जरूरी व्यवस्थाएं तेज करने पर जोर देगी. लॉकडाउन इसका हिस्सा नहीं है.

Spread the love