G7 Summit : भारत विकसित देशों के समूह G-7 में होगा शामिल, ट्रंप ने दिए संकेत

न्यूज़ पैंट्री डेस्क: अमेरिकी राष्ट्रोपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ने यह संकेत दिया है कि विकसित देशों के समूह जी-7 (G-7) के सदस्य देशों का विस्तार किया जाएगा. जिसमें भारत का भी नाम शामिल किया जाएगा. गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए यह काफी अहम है. इस प्लैटफ़ॉर्म के द्वारा अब भारत की साझेदारी विकसित देशों के साथ होगी. नतीजतन विश्व स्तर पर भारत का दबदबा भी बढ़ेगा. यह भारत सरकार के लिए विश्व स्तर पर एक बड़ी कूटनीतिक जीत है. हालांकि, अमेरिकी राष्ट्रपति Donald Trump ने कोरोना वायरस महामारी के चलते जून में होने वाले G7 Summit को स्थगित कर दिया है. अब यह G7 Summit सितंबर में होगा. बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रोपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को कहा है कि समय की मांग है कि इस समूह का विस्तार किया जाए. उन्होंने आगे कहा, “जी-7 का स्वकरूप काफी पुराना हो चुका है. यह पूरी दुनिया का ठीक से प्रतिनिधित्व नहीं करता है. इसलिए इसका विस्तार जरूरी है.

जी-7 क्या है ?

जी-7 सात सदस्य देशों का संगठन (Organization) है. फिलहाल कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका इसके सदस्य देश हैं. शनिवार को राष्ट्रपति ट्रंप ने इसके विस्तार के प्रस्ताव रखा है. इस विस्तार में एशिया के दो देश -भारत और दक्षिण कोरिया- शामिल है. इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया और रूस को भी इस संगठन का सदस्य बनाने की बात ट्रंप ने कही है.

जी-7 के सामने चुनौतियां

जी-7 समूह सदस्य देशों के बीच कई तरह की असहमतियां भी हैं. पिछले वर्ष कनाडा में हुए जी-7 के शिखर सम्मेलन में अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप का जी-7 के अन्य सदस्य देशों के साथ मतभेद उत्पंन्न हो गया था. राष्ट्रपति ट्रंप के आरोप थे कि दूसरे देश अमेरीका पर भारी आयात शुल्क लगा रहे हैं. इसके साथ पर्यावरण के मुद्दे पर भी उनका सदस्य देशों के साथ मतभेद था.

Spread the love