क्या गांजे से कोरोना वायरस का इलाज किया जा सकता है ?

न्यूज पैंट्री डेस्क : साढ़े तीन लाख से ज्यादा लोगों की जिंदगी लील चुके कोरोना वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है. सारी दुनिया की उम्मीदें इसकी वैक्सीन पर ही टिकी हैं. कोविड-19 संक्रमण का इलाज करने के लिए अलग-अलग दवाइयों का ट्रायल किया जा रहा है. इस कड़ी में कई देशी नुस्खों को भी कोरोना संक्रमण रोकने के लिए रामबाण बताया जा रहा है.

सोशल मीडिया पर ऐसे हजारों दावे किए जा रहे हैं कि फलां औषधि से कोरोना का इलाज संभव है. हाल के दिनों में गांजे को लेकर भी खूब चर्चा हुई है. हज़ारों लोगों ने सोशल मीडिया पर ऐसे लेख शेयर किए हैं जिनमें दावा किया गया है कि गांजे से कोविड-19 संक्रमण का इलाज हो सकता है. इन लेखों में को इस तरह से पेश किया जा रहा है कि लोग इससे भ्रमित और गुमराह हो रहे हैं.

गांजे से कोरोना का इलाज

असल में बात यह है कि कनाडा, इजरायल और ब्रिटेन समेत कई देशों में ये पता लगाने के लिए ट्रायल चल रहा है कि क्या गांजा कोरोना वायरस संक्रमण के इलाज में फ़ायदेमंद हो सकता है. अभी तक की जानकारी के मुताबिक औषधीय गांजे को संक्रमण की अवधि कम करने में मददगार माना जा रहा है. कहा जा रहा है कि यह साइटोकाइन स्टॉर्म के इलाज में भी उपयोगी साबित हो सकता है. साइटोकाइन स्टॉर्म कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों में देखने को मिलता है.

इसे भी पढ़ें – कोरोना वायरस का इलाज नहीं है तो फिर संक्रमित मरीज ठीक कैसे हो रहे हैं ?

ये सच है कि गांजे को लेकर ट्रायल किया जा रहा है लेकिन अभी ये शुरूआती स्टेज में है. ऐसे में अभी दावे के साथ नहीं कहा जा सकता है कि गांजे से कोरोना का इलाज किया जा सकता है. पिछले कुछ सालों में गांजे से कई बीमारियों का इलाज करने को लेकर प्रयोग किए गए हैं. इनमें से कई रिजल्ट पॉजिटिव मिले हैं तो कई बार यह पूरी तरह विफल रहा है. आम तौर पर दुनिया भर में लोग मादक पदार्थ के रूप में गांजे का सेवन करते हैं. इसलिए उनकी दिलचस्पी रहती है कि क्या यह बीमारियों का इलाज भी हो सकता है.

Spread the love